विकास क्षेत्र को सर्वोपरि माने शिक्षक

RAJNITIK BULLET
0 0
Read Time6 Minute, 47 Second

(प्रदीप यादव) पयागपुर। खंड शिक्षा अधिकारी वीरेंद्र नाथ द्विवेदी की अध्यक्षता में ब्लॉक संसाधन केंद्र के परिसर में विकास क्षेत्र के एआरपी एवं नोडल शिक्षा संकुल की एक अति आवश्यक बैठक संपन्न हुई जिसमें सख्त निर्देश दिया कि सभी लोग विकास क्षेत्र पयागपुर को शैक्षिक स्तर पर हर पैरा मीटर में आगे रहना होगा इसके लिए 30 अप्रैल के अंदर सारे अपूर्ण कार्य पूर्ण कर लिया जाए नामांकन के लिए विद्यालय स्तर पर वृहद कार्ययोजना बना ली जाए कहीं, सभी मिलकर अपने अपने स्तर से रात दिन एक कर के शैक्षिक रूप से पिछड़े क्षेत्र को सर्वो पर रखने में हम सभी को युद्ध स्तर पर कार्य करने की आवश्यकता है कोई भी शिक्षक लापरवाही करेगा तो उचित कार्यवाही की जाएगी और हम सभी की जिम्मेदारी है कि प्रत्येक दशा में हमारा विकास क्षेत्र सबसे आगे रहे इसी के क्रम में बिंदुवार निम्न सुझाव दिए गए।
स्कूल चलो अभियान के अन्तर्गत प्रतिदिन बच्चों को चिन्हांकन एवं नामांकन कार्य होना है। प्रतिदिन नामांकन की प्रगति सूचना सभी नोडल शिक्षक संकुल अनिवार्य रूप से बारह बजे तक उपलब्ध करा दें जिससे सूचना संक लित कर जनपद को प्रेषित की जा सके। बिना बिना स्मरण कराए प्रतिदिन मिल जाय, यह सुनिश्चित करें। स्वच्छ विद्यालय पुरस्कार के अन्तर्गत पोर्टल पर समस्त परिषदीय, मान्यता प्राप्त, सहायता प्राप्त एवं कस्तूरबा विद्यालय का रजिस्ट्रेशन एवं फाइनल सबमिशन होना अनि वार्य है। विकासखण्ड की प्रगति बहुत खराब है। आप सभी का सक्रिय सहयोग वांछित है। इस हेतु दिनांक- 13-04-2022 अन्तिम दिन है। कृपया सभी को सूचित कर प्रगति सुधारें। आपरेशन विद्यालय कायाकल्प की डाटा इंट्री न होने से प्रगति प्रेरणा पोर्टल पर बहुत खराब प्रदर्शित हो रही है। कृपया समस्त विद्यालयों का गत माह तक की प्रगति का क्ब्थ् भरकर उपलब्ध कराएं जिससे प्रेरणा पोर्टल को अपडेट अर्थात् अद्यावधिक किया जा सके। 12से 14 आयु वर्ग के बच्चों का शत प्रतिशत टीकाकरण का कार्य स्वास्थ्य विभाग से समन्वय कर पूर्ण कराना है। स्पोर्ट्स किट हेतु प्राप्त धनराशि का उपभोग सुनिश्चित कर उसको सम्बन्धित प्रधाना/ यापक को स्वयं आनलाइन करना है। जिसे खण्ड शिक्षा अधिकारी को वेरीफाई करना है। प्रेरणा पोर्टल पर नामांकित बच्चों को वेरीफाई करना है। साथ ही नवीन नामांकित होने वाले बच्चों का रजिस्ट्रेशन भी करते रहना है। नामांकन लक्ष्य के सापेक्ष शत प्रतिशत बच्चों का नामांकन प्रत्येक दशा में 30 अप्रैल 2022तक करा लेना है। इस हेतु आप लोग स्वयं सूचित होकर सभी प्रधानाध्यापकों/शिक्षकों को अवगत कराकर कार्य को निश्चित समयावधि में पूरा कराएं। खाद्य सुरक्षा भत्ता के अन्तर्गत खाद्यान्न एवं कन्वर्जन कास्ट की धनराशि का वितरण निर्धारित प्रक्रिया का पालन करते हुए शीघ्रा- तिशीघ्र पूरा करना है। समस्त विद्यालयों में नियमित मीनू के अनुसार मिड डे मील का वितरण एवं फल दूध का भी वितरण सुनिश्चित हो। फल वितरण की कम से कम दो जियो टैगिंग युक्त फोटोग्राफ (प्रति सोमवार) विद्यालय में सुरक्षित रखी जाय। किसी प्रकार की उदासीनता के लिये सम्बन्धित प्रधानाध्या- पक/प्रभारी प्रधानाध्यापक उत्तरदायी होंगे।
किसी भी विद्यालय में कोई शिक्षक, शिक्षा मित्र अथवा अनुदेशक बिना पूर्व अवकाश स्वीकृति के अनुप- स्थित पाये जाने पर कठोर दण्डात्मक कार्यवाही के लिये उत्तरदायी होंगे। अवकाश केवल और केवल आनलाइन एवं समयान्तर्गत ही मान्य होंगे। बाल्य देखभाल अव काश, प्रसूति अवकाश, मिस कैरेज अवकाश तथा चिकि- त्सीय अवकाश निर्धारित वांछित अभिलेखों को अपलोड करके आनलाइन ही स्वीकार्य होंगे। सहायक शिक्षक का उक्त अवकाश प्रधानाध्यापक /प्रभारी प्रधानाध्यापक से फारवर्ड होकर खण्ड शिक्षा अधिकारी की आई डी पर प्रेषित किया जाय। बाल्य देख भाल अवकाश एवं प्रसूति अव काश हेतु आनलाइन आवेदन अवकाश पर जाने से कम से कम तीन दिन पूर्व करें जिससे अवकाश के प्रोसेसिंग में लगने वाले समय के कारण किसी को असुविधा न हो।
इस समीक्षा बैठक में एआ रपी राजेश कुमार मिश्र, पवन कुमार शुक्ल, दिलीप त्रिपाठी, नोडल शिक्षक संकुल गोपाल जी शुक्ल, मार्तण्ड त्रिपाठी, राजेन्द्र नाथ शर्मा, अतुल त्रिपाठी, अजय कुमार मिश्र, संगीता कुशवाहा, अजय श्रीवास्तव, राज कुमार पांडेय, अभिकेश त्रिपाठी, तथा लिपिक राजेन्द्र चक्रवर्ती मौजूद रहे।

Next Post

जनपद में ‘स्कूल चलो अभियान’ के तहत कार्यक्रम का हुआ आयोजन

(प्रेम […]

You May Like

👉