मुख्यमंत्री माटीकला ग्रामोद्योग रोजगार योजना के लाभ हेतु करे संपर्क

RAJNITIK BULLET
0 0
Read Time3 Minute, 1 Second

(राममिलन शर्मा)
रायबरेली। जिला ग्रामो द्योग अधिकारी संतोष कुमार गौतम ने बताया है कि प्रजा पति समाज (मिट्टी का काम करने वाले) की आर्थिक स्थि ति सुदृढ़ करने के लिए राज्य सरकार द्वारा राजस्व विभाग से मिट्टी निकालने हेतु प्राप्त पट्टा धारको/पराम्परागत कारी गरों (कुम्हारों) को आसान किस्तों में बैंको के माध्यम से ऋण भी उपलब्ध कराया जायेगा।
प्लास्टिक और थर्माकोल से बने पात्रो मे खाद्य वस्तुओं का सेवन स्वाथ्य के लिए हानिकारक है तथा पर्यावरण के लिए भी नुकसान दायक है, जिसके लिए उ0प्र0 सर कार भी प्लास्टिक का चलन रोकने के लिए प्रतिबद्ध है। इसके स्थान पर मिट्टी के बर्तनों को बढ़ावा देने से प्रदू षण में कमी के साथ ही कुम् हारी कला से जुडे परिवारो की आर्थिक स्थिति में सुधार होगा।
जिला ग्रामोद्योग अद्दि कारी ने कहा कि खादी ग्रामो द्योग विभाग से माटीकला बोर्ड की ओर से शुरू की गयी मुख्यमंत्री माटीकला ग्रामो द्योग रोजगार योजना के तहत विभिन्न प्रकार के मिट्टी के बर्तन बनाने और बेचने का कार्य करने हेतु मु0 10.00 लाख रुपये तक का बैक द्वारा दिलाया जाएगा।
इसमें लाभा र्थी को पांच प्रतिशत अंशदान स्वयं लगाना होगा तथा प्रोजेक्ट पर 95 प्रतिशत तक की धनराशि ऋण के रूप में बैंकों द्वारा स्वीकृत होगी। जिसमे कार्यशील पूंजी को छोड़कर शेष पूजीगत ऋण धनराशि पर 25 प्रतिशत तक की धन राशि लाभार्थियो को मार्जि नमनी के रुप मे अनुदान स्व रुप प्राप्त होगी।
यह धनराशि तीन वर्ष बाद ऋण खाते में कार्य करने की दशा में समायोजित होगी। इच्छुक अभ्यर्थी महिला/ पुरुष अपने निवास प्रमाण पत्र, जाति प्रमाण पत्र, आधार कार्ड, फोटो, शैक्षिक योग्यता आदि प्रपत्रों के साथ अपना आवेदन पत्र 10 जुलाई 2024 तक जिला ग्रामोद्योग कार्यालय पुरानी तहसील रायबरेली में कर सकते है।
अधिक जानकारी हेतु मो0 -7408410810 एवं आनंद कुमार के मो0-83180131 31 पर सम्पर्क कर सकते है।

Next Post

E-PAPER 22 JUNE 2024

CLICK […]
👉