गदागंज थाना प्रभारी अरविन्द सिंह अपराधियों के लिए बन गये सर दर्द

RAJNITIK BULLET
0 0
Read Time3 Minute, 8 Second

(राममिलन शर्मा)
रायबरेली। तेजतर्रार गदागंज थाना प्रभारी अरविन्द सिहं की पुलिसिया कार्यशैली के चलते गदागंज थाना क्षेत्र में क्राइम का ग्राफ काफी स्थिर है ऐसा पहली बार हुआ जब पुलिसिया खौफ से बदमास अराजक तत्वों और माफिया थाना क्षेत्र से बाहर पलायन कर रहे है प्रभारी निरीक्षक गदागंज का कहना है कि संभांत लोगो की जहां सम्मान करता हूं। वही बदमाशों के साथ मेरी कोई रियायत नही होती है यदि सुधरने वाले लोग सुधरना चाहते है तो उनको मेरे द्वारा एक मौका दिया जाता है और जो नही सुधरते है तो उनकी पहुंच चाहे जितनी हो वही सलूक करता हूं कि अपने जीवन में अपराध करना भूल जाते है। गदागंज थाना प्रभारी एक तेज तर्रार अधिकारी के रूप में किया तो आर्दश अधिकारी के रूप में लिया जाता है जो अपने कार्य के प्रति पूर्णतया सर्मपित है जो रात गश्त के समय न सोते है और न सिपाहियों को सोने देते है और यदि कही क्षेत्र में हत्या, राहजनी, दुष्कर्म की घटना घटी तो 12 से 48 घंटे के बीच अपराधी थानेदार के गिरफ्त में होता है रात भर सायरन की आवाज थाना क्षेत्र में सुनाई देने से अपराधी अपराध करना भूल जाते है तो वही आम जनता बडे़ ही चैन की नींद से सोती है लोग थाना प्रभारी निरीक्षक अरविन्द सिंह को क्राइम कंटोलर के नाम से भी पुकारते है और जानते है अभी हाल में ही बाइक लुटेरो में तीन को हत्या करने वाले अमरेश को दुष्कर्म के आरोपी सुल्तान को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। प्रभारी निरीक्षक से कंधा से कंधा मिलाकर पग से पग मिलाकर चलने वाले उपनिरीक्षक राजबहादुर यादव, उप निरीक्षक अखिल तोमर, उपनिरीक्षक अरविन्द मौर्या, उपनिरीक्षक रामप्रसाद जी है तो तेज तर्ररार हे.का.राजबहादुर, महेश कुमार, प्रेम शंकर के साथ कर्मठ नौजवानो में का. जितिन कुमार, कामेद्र जी, रिसांत विश्नोई, गौरव कुमार जहां क्षेत्र में अमन चैन बनाने में पूरा थाना प्रभारी का साथ देते है तो म. का. नीता, माधुरी, पूजा, ज्योति, बिनीता, नीरज भी बढ़-चढ़ कर अनुशासित रहकर विशेष सहयोग कर रही है।

Next Post

बाबा का बुल्डोजर क्या खाली कराएगा तालाब से अतिक्रमण

(प्रेम […]
👉